पतंग बनाने को किराये पर लिया कमरा, फिर बेचने लगे ब्रांडेड बोतलों में सस्ती शराब

  • अमृतसर के अजनाला में डेढ़ साल से चल रहा था 2 भाइयों का अवैध धंधा, एक्साइज और पुलिस टीम ने मारा छापा
  • अंग्रेजी-देसी शराब की 348 बोतलें, 169 होलोग्राम और बोतलों के ढक्कन खोलने-सील करने वाली मशीन बरामद

अजनाला (अमृतसर). थाना रमदास पुलिस ने मैरिज पैलेसों से महंगी अंग्रेजी शराब की खाली बोतलें लाकर उसमें सस्ती शराब भरकर बेचने वाले दो सगे भाइयों के खिलाफ एक्साइज एक्ट व धोखाधड़ी के तहत मामला दर्ज किया है। आरोपी विभिन्न ब्रांड की महंगी शराब की खाली बोतलों में दूसरे राज्यों से मंगवाई सस्ती शराब भरकर उस पर सरकारी होलोग्राम लगाकर बेचते थे। इसका खुलासा जिला एक्साइज टू की टीम और अजनाला पुलिस की तरफ से रविवार को की गई छापेमारी के दौरान हुआ है।

एक्साइज इंस्पेक्टर राजविंदर कौर के मुताबिक उन्हें सूचना मिली थी कि दोनों आरोपी सगे भाई किशन चंदर उर्फ कालू और रवि पिछले डेढ़ साल से अवैध शराब का धंधा कर रहे हैं। उन्होंने करीब चार महीने पहले पतंगों का कारोबार करने के नाम पर रमदास में दो हजार रुपए प्रति महीना किराए पर कमरा लिया था। छापेमारी के दौरान मकान मालिक को मौके पर बुलाकर कमरे का ताला तोड़ा गया, जहां पर अंग्रेजी और देसी शराब की बोतलों के भारी मात्रा में पड़े खाली बॉक्स भी मिले। बोतलों के ढक्कन खोलने और सील करने वाली एक मशीन, अरुणाचल प्रदेश से मंगवाई गई शराब की 21 पेटियां (252 बोतलें) और विभिन्न ब्रांड की अंग्रेजी शराब की 96 बोतलें और 169 होलोग्राम बरामद हुए हैं।

 

बरामद किए गए शराब की बोतलों पर लगने वाले होलोग्राम असली है या नकली यह जांच का विषय हैं। यह होलोग्राम सरकार की तरफ से डिस्टिलरीज को बांटे जाते हैं। उधर थाना रमदास के एसएचओ मंतेज सिंह ने बताया कि दोनों अारोपियों के खिलाफ एक्साइज एक्ट व होलोग्राम्स का इस्तेमाल करके धोखाधड़ी करने की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Leave a Reply