शनिवार से शुरू हो रहा है हिन्दू नववर्ष, नए साल का राजा होगा शनि, सूर्य रहेगा मंत्री

शनिवार, 6 अप्रैल 2019 से हिंदू नववर्ष यानि नया संवत्सर शुरू हो रहा है। इस संवत्सर का नाम परिधावी है। इसके स्वामी इंद्राग्नि होंगे। नववर्ष के राजा शनिदेव और मंत्री सूर्यदेव रहेंगे। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार अभी चैत्र मास चल रहा है। चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा (6 अप्रैल) को गुड़ी पड़वा मनाई जाती है। इसी तिथि से चैत्र नवरात्र और हिन्दू नववर्ष शुरू होता है। इस वर्ष के राजा शनि होने से गलत काम करने वालों के लिए परेशानियां बहुत ज्यादा बढ़ेंगी। इसीलिए संभलकर रहें और गलत कामों से बचें।

पं. शर्मा के अनुसार जानिए सभी 12 राशियों के लिए ये नववर्ष कैसा रहने वाला है...

  1. मेष

    राशि स्वामी मंगल और वर्ष के राजा शनि और मंत्री सूर्य की वजह से आपके लिए परेशानियां बढ़ने वाली है। अपने अधिकारियों से न उलझें, वरना हानि आपकी ही होगी। सावधान रहें।

  2. वृष

    राशि स्वामी शुक्र और शनि के बीच मित्रता है। इस कारण ये राशि सफलता प्राप्त कर सकती है। मंत्री सूर्य भी अनुकूल रहेगा। समय शुभ रहेगा।

  3. मिथुन

    राशि स्वामी बुध और शनि के बीच सम भाव है। इस वजह से मिथुन राशि के लोग अपना काम साधने में सफल रहेंगे। बिना बाधाओं के कार्य पूर्ण कर पाएंगे। घर में सुखद वातावरण रहेगा।

  4. कर्क

    राशि स्वामी चंद्र और शनि के बीच शत्रुता है, लेकिन चंद्र और सूर्य की मित्रता है। इस वजह से समय सामान्य रहेगा। किसी से ज्यादा अपेक्षाएं न करें। खुद पर भरोसा रखें। काम पूरे होंगे।

  5. सिंह

    राशि स्वामी सूर्य और शनि, दोनों एक-दूसरे से शत्रु भाव रखते हैं। फिर भी आपके लिए स्थितियां सामान्य रहेंगी। दूसरों की मदद से आपके काम पूरे होंगे। घर में सुख बना रहेगा।

  6. कन्या

    राशि स्वामी बुध और वर्ष के राजा शनि के बीच सम भाव है। इस कारण आपको अपनी मेहनत के अनुसार फल मिलेगा। जितनी मेहनत, उतना फायदा। परिवार में सुख-समृद्धि बनी रहेगी।

  7. तुला

    राशि स्वामी शुक्र और वर्ष के राजा शनि के बीच मित्रता का भाव है। ये राशि सफलता  प्राप्त करेगी। मंत्री सूर्य भी लाभ दिलाने वाला रहेगा। समाज में मान-सम्मान बढ़ेगा।

  8. वृश्चिक

    राशि स्वामी मंगल और वर्ष के राजा शनि के बीच शत्रु भाव है, लेकिन मंत्री सूर्य से मित्रता है। इस वर्ष दिखावा करने से बचें। अपने काम से काम रखें। बिना वजह दूसरों के काम में दखल न दें।

  9. धनु

    राशि स्वामी गुरु और शनि के बीच सामान्य व्यवहार है। समय अच्छा रहेगा। कार्य पूरे होंगे। सफलता मिलेगी।

  10. मकर

    इस राशि स्वामी शनि ही नववर्ष का राजा है। आपके लिए लाभ की स्थितियां बनेंगी। सभी कार्य समय पर होंगे। कोई बड़ी सफलता हासिल होगी। मान-सम्मान मिलेगा।

  11. कुंभ

    इस राशि का स्वामी शनि है और वह इस वर्ष का राजा भी है। ये साल आपके लिए बहुत फायदेमंद रहने वाला है। सभी काम सफल होंगे और सम्मान प्राप्त करेंगे।

  12. मीन

    वर्ष का राजा शनि और इस राशि का स्वामी गुरु, दोनों मित्रता का भाव रखते हैं। इस वजह से ये साल आपके लिए बहुत शुभ रहने वाला है। सफलता के साथ धन लाभ मिलेगा।

Leave a Reply