यूट्यूब पर वीडियो नहीं मिला तो 3300 मील तक ड्राइव कर गूगल के ऑफिस पहुंच गया युवक

कैलिफॉर्निया. एक युवक को अपना ऑनलाइन चैनल और वीडियो यूट्यूब पर नहीं मिला तो वह इतना नाराज हो गया कि गूगल के हेडक्वार्टर पर तोड़फोड़ करने पहुंच गया। 33 साल का कायली लॉन्ग मेन शहर से 3300 मील तक ड्राइव कर गूगल के ऑफिस पहुंचा। उसकी कार में 3 बेसबॉल के बैट थे। जिन्हें पुलिस ने जब्त कर लिया।

कायली को लगा कि गूगल ने उसकी कमाई छीन ली

  1. पुलिस ने बताया कि कायली ने अपने यूट्यूब चैनल के संबंध में गूगल के अधिकारियों से मीटिंग की मांग की थी। ऐसा नहीं होने पर हिंसा की धमकी दी।
  2. कायली को यह भरोसा था कि उसके यूट्यूब पर उसके आईडिया से हजारों डॉलर मिल जाएंगे। लेकिन, वहां वीडियो नहीं मिला तो वह भड़क गया और गूगल के अधिकारियों से मिलने की योजना बनाई।
  3. कायली के रिश्तेदारों का कहना है कि उसका वीडियो और अकाउंट यूट्यूब ने नहीं बल्कि पत्नी ने डिलीट कर दिया था। पति की मानसिक स्थिति की चिंता होने की वजह से उसने ऐसा किया। कायली को पहले भी मानसिक दिक्कतें रहीं हैं। कायली का वीडियो देखकर उसकी पत्नी ने कहा कि गूगल को इसे हटा देना चाहिए और फिर खुद ही वीडियो डिलीट कर दिया।
  4. पिछले साल अप्रैल में भी ऐसा ही मामला सामने आया था। उस वक्त सैन डिएगो की महिला नसीम अघदम ने सैन ब्रूनो में गूगल के हेडक्वार्टर पर फायरिंग कर दी थी। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक फायरिंग में 3 लोग घायल हो गए थे और अघदम ने आत्महत्या कर ली थी। उसका कहना था कि यूट्यूब ने एनिमल राइट्स से जुड़े उसके वीडियोज को गलत तरीके से सेंसर कर दिया।

Leave a Reply