अवसर का जन्म काबिलियत की कोख में होता है:नवाब पंकज सिंहानिया

Newsyuva
18/9/2018

नवाब पंकज सिंहानिया, जो मशहूर हैं अपनी सूफी गायिकी के दम पर आज लाखों की तादात में नए युवा इनके द्वारा गाये हुए गीतों को गुनगुनाते दिखते हैं।

नवाब पंकज जो लखनऊ घराने से 8साल की तालीम लेने के बाद आज अपनी आवाज़ की खूबसूरती से सबको मोह ले रहे हैं,आज हमारे स्टूडियो में खास मुलाकात के दौरान अपने हुनर को दिखाते हुए यह साबित कर दिया कि काबिलियत किसी की मोहताज़ नहीं होती ।
नवाब का कहना है कि अवसर का जन्म काबिलियत की कोख में होता है।
उनके द्वारा गाया एक गीत का लिंक इसी न्यूज़ में आगे दिया भी है।
राहत फ़तह अली खां साहब और कैलाश खेर को अपना गुरु मान बैठे नवाब पंकज को हमारे चैनल की शुभकामनाएं।

अमित खरे
लखनऊ

 

Leave a Reply