किसान आंदोलन महाराष्ट्र LIVE: दोपहर बाद CM देवेंद्र फडणवीस से मिलेंगे किसान, राज्य सरकार ने मांगों पर विचार करने के दिए संकेत

Maharashtra Farmers Protest LIVE: अपनी कई मांगों पर दबाव बनाने के लिए नासिक से छह मार्च को‘ लांग मार्च’ पर निकले महराष्ट्र के विभिन्न हिस्सों के 40,000 से अधिक किसान मुंबई पहुंच गये हैं। आज किसान मुंबई में महाराष्ट्र विधानसभा का घेराव करने वाले हैं।CPI(M) से ताल्लुक रखने वाले ऑल इंडिया किसान सभा की अगुवाई में किसान महाराष्ट्र सरकार की ऋणमाफी योजना के उपयुक्त क्रियान्वयन की मांग कर रहे हैं। उनकी अन्य मांगें भी हैं।

ऑल इंडिया किसान सभा की प्रदेश परिषद के अध्यक्ष किसान गुजार ने कहा कि हम पूर्ण ऋणमाफी, उपज के उचित दाम आदि को मांग को लेकर विधानभवन का घेराव करने वाले हैं। इन किसानों ने 6 मार्च को यात्रा शुरू की थी और अबतक पिछले 6 दिनों में 160 किलोमीटर की यात्रा तय कर चुके हैं। किसानों के इस आंदोलन को शिवसेना, महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना, कांग्रेस और आप का समर्थन हासिल है। आज से महाराष्ट्र में दसवीं की परीक्षाएं भी शुरू हो रही है। राज्य सरकार ने किसानों से अपील की है कि वे यातायात को ना रोकें ताकि छात्र समय पर परीक्षा देने के लिए पहुंच पाएं।

किसानों के प्रदर्शन पर CM देवेंद्र फडणवीस ने विधानसभा में एक बयान दिया और कहा कि राज्य सरकार ने किसानों को बता दिया वह उनके साथ बातचीत को तैयार है। मुख्यमंत्री ने कहा कि यद्यपि वरिष्ठ मंत्री गिरीश महाजन प्रदर्शन कर रहे किसानों के मुख्य नेताओं साथ संपर्क में हैं। फिर भी किसान मार्च को आगे ले जाना चाहते हैं। राज्य सरकार ने कहा कि वह किसानों और आदिवासियों की मांग को लेकर सकारात्मक रुख अख्तियार करेगी।

-महाराष्ट्र विधानसभा के विपक्ष के नेता और एनसीपी लीडर धनंजय मुंडे पार्टी के दूसरे वरिष्ठ नेताओं सुनील तत्कारे के साथ आजाद मैदान में किसान नेताओं के साथ थोड़ी ही देर में मुलाकात करने वाले हैं।

-किसानों का एक प्रतिनिधिमंडल आज विधानभवन में दोपहर बाद 2 बजे मुख्यमंत्री से मुलाकात करेगा। किसानों ने अपने 20 मांगों का एक चार्टर तैयार किया है। इसमें किसानों की मांगों के अलावा आदिवासियों की भी डिमांड है।

-कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने महाराष्ट्र के किसानों का समर्थन किया है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक राहुल ने कहा कि यह सिर्फ महाराष्ट्र के किसानों का मसला नहीं है, पूरे देश में किसानों की ऐसी ही हालत है।

-किसानों के मार्च की वजह से मुंबई पुलिस और मुंबई ट्रैफिक पुलिस ने पुरी तैयारी की है। मुंबई पुलिस एडवाइजरी जारी कर रही है, तो ट्रैफिक पुलिस की ओर से रूट डायवर्जन बताया जा रहा है। सूत्रों के मुताबिक सायन और मुलुंड की ओर ट्रैफिक मूवमेंट कम किया जा सकता है, क्योंकि किसान विधानसभा की ओर आ रहे हैं। ज्यादा जानकारी के लिए मुंबई पुलिस के ट्विटर अकाउंट पर नजर रख सकते हैं।

-प्रदर्शन कर रहे किसानों को कलाकारों का भी साथ मिला है। किसानों के साथ लगभग 50 कलाकार जुड़े हैं। इनमें यलगार, बैन्ड, कल्शांगिनी नाम की संस्थाएं शामिल हैं, ये कलाकार इनका हौसला बढ़ा रहे हैं और उनके संघर्ष को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर प्रसार कर रहे हैं। आजाद मैदान की ओर कूच करने से पहले सौमेया ग्राउंड पर कलाकारों ने किसानों का हौसला बढ़ाया।

Leave a Reply