PNB स्कैम: जीएम राजेश जिंदल गिरफ्तार, ब्रैडी हाउस ब्रांच से की थी नीरव मोदी की मदद

पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के जीएम राजेश जिंदल को केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने गिरफ्तार किया है। राजेश जिंदल पर आरोप है कि उनके कार्यकाल के दौरान मुंबई की ब्रैडी हाउस बैंक शाखा से नीरव मोदी को लोन दिया गया था।

 HINDI NEWS NEWS YUVA

इस शाखा से सीमा के बिना एलओयू जारी करने की प्रथा शुरू की गई थी और इस दौरान जिंदल शाखा के प्रमुख थे। 11,400 करोड़ के इस घोटाले में घिरे जिंदल फिलहाल पीएनबी के हेड ऑफिस में बतौर जीएम तैनात हैं। अभी तक बैंक से जुड़े 11 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जिसमें गीतांजलि समूह के विपुल अंबानी भी शामिल हैं। इसके अलावा कविता मानकीकर, अर्जुन पाटिल, कपिल खंडेलवाल और नितांत शाही को गिरफ्तार किया गया हैं। इन सभी को सीबीआई ने गिरफ्तार किया है। 

बता दें कि सीबीआई ने इससे पहले पीएनबी के तीन और अधिकारियों को गिरफ्तार किया था। इनमें फोरेक्स विभाग में तत्कालीन चीफ मैनेजर बेचू तिवारी, स्केल-2 मैनेजर यशवंत जोशी, एक्सपोर्ट सेक्शन में स्केल वन आफिसर हैंडलिंग प्रफुल्ल सावंत शामिल हैं।

वहीं पीएनबी घोटाले में उच्च प्रबंधन की भूमिका की जांच की मांग वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट  आज सुनवाई करेगा। चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय पीठ के समक्ष इस याचिका का उल्लेख करते हुए जल्द सुनवाई की गुहार की गई। पीठ ने इस आग्रह को स्वीकार करते हुए बुधवार को सुनवाई करने का निर्णय लिया है। मालूम हो कि पीएनबी घोटाले को लेकर दो याचिकाएं दायर की गई है। एक याचिका वकील विनित ढांडा जबकि दूसरी याचिका वकील एमएल शर्मा की ओर से दायर की गई हैं। 

Leave a Reply