कैरी बैग के 3 रुपए नहीं लौटाए, कंज्यूमर फोरम ने लगाया 3 हजार रु. हर्जाना

  • डिस्ट्रिक्ट कंज्यूमर फोरम ने दिनेश प्रसाद रतूड़ी की शिकायत पर बाटा स्टोर सेक्टर-22 पर लगाया 3 हजार रुपए का हर्जाना
  • 5 फरवरी को चंडीगढ़ के सेक्टर 22-D में बाटा स्टोर से जूता खरीदा, कैरी बैग के 3 रुपए भी शामिल थे कुल 402 के बिल में 

चंडीगढ़. कस्टमर से कैरी बैग के लिए महज 3 रुपए वसूलना बाटा स्टोर को काफी महंगा पड़ा। डिस्ट्रिक्ट कंज्यूमर फोरम ने दिनेश प्रसाद रतूड़ी की शिकायत पर बाटा स्टोर सेक्टर-22 पर 3 हजार रुपए हर्जाना लगाया है। बाटा ने रतूड़ी से कैरीबैग के 3 रुपए अलग से चार्ज किए थे। रतूड़ी ने जब कैरी बैग के 3 रुपए वापस मांगे तो उन्होंने इनकार कर दिया। इस पर रतूड़ी ने बाटा के खिलाफ कंज्यूमर फोरम में शिकायत दी।

रतूड़ी ने 5 फरवरी को चंडीगढ़ के सेक्टर 22-D में बाटा स्टोर से जूता खरीदा। स्टोर ने उन्हें 402 रुपए का बिल थमा दिया। बिल में पेपर कैरी बैग के 3 रुपए का बिल भी शामिल था। पेपर बैग पर बाटा अपने ब्रांड का प्रचार कर रहा था। दिनेश ने कंज्यूमर फोरम में शिकायत दी। फोरम ने कहा कि बाटा इंडिया अगर खुद को पर्यावरण एक्टविस्ट समझ रहा है तो ये बैग उसे अपने ग्राहकों को फ्री में देना चाहिए।

फोरम ने ये भी कहा कि गलत तरीके से लिए गए तीन रुपए ग्राहक को लौटाए जाएं। इसके अलावा फोरम ने बाटा को 3 हजार रुपए हर्जाना भी अदा करने को कहा है। इसके अलावा फोरम ने एक हजार रुपए मुकदमा खर्च भी देने को कहा है। फोरम ने बाटा इंडिया को 5000 रुपए उपभोक्ता कानूनी सहायता खाता में भी जमा कराने को कहा है।

Leave a Reply