मध्य प्रदेश: बीजेपी में टिकट के लिए नेता पुत्रों की बड़ी जमात, सीएम शिवराज का नाम भी शामिल

newsyuva
मध्य प्रदेश: बीजेपी में टिकट के लिए नेता पुत्रों की बड़ी जमात, सीएम शिवराज का नाम भी शामिल

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी में इस बार विधायक और मंत्री पुत्रों की बड़ी जमात है. ये टिकट के लिए कतार में हैं. इस लिस्ट में शिवराज सरकार के बड़े-बड़े मंत्रियों के नाम शामिल हैं और खुद सीएम शिवराज का नाम भी इसमें आ रहा है. भोपाल में बीजेपी दफ्तर के बाहर इसे लेकर पार्टी नेताओं के बेटों के समर्थक लगातार नारेबाजी करते रहते हैं.

ये रही लिस्ट
बीजेपी के नेता पुत्र जो इस बार टिकट के लिए कतार में हैं उनमें पार्टी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश विजयवर्गीय, वन मंत्री गौरीशंकर शेजवार के बेटे मुदित शेजवार, वित्त मंत्री जयंत मलैया के बेटे सिद्धार्थ मलैया, पूर्व सीएम बाबूलाल गौर की बहू कृष्णा गौर, पंचायत मंत्री गोपाल भार्गव के बेटे अभिषेक और सीएम शिवराज की पत्नी साधना सिंह के भी विदिशा से चुनाव लड़ने की चर्चा है.

बता दें कि इस बार के चुनाव में सीएम शिवराज के बेटे कार्तिकेय चौहान भी सक्रिय हैं. हालांकि, उनकी उम्र अभी चुनाव लड़ने में आड़े आ रही है. जाहिर है कि लिस्ट लंबी है लिहाजा अब कांग्रेस, बीजेपी से राजनीति में वंशवाद के मुद्दे पर सवाल कर रही है.

कांग्रेस इसलिए भी हमलावर है क्योंकि बीजेपी अक्सर कांग्रेस को गांधी परिवार के चलते परिवारवाद को बढ़ावा देने के लिए कोसती रहती है. लेकिन आरोप जब अपने ऊपर लगने लगे तो बीजेपी उल्टा सवाल कर रही है कि नेता का बेटा होना कोई अपराध है क्या? बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह से जब इस बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने भी गोलमोल जवाब दिया.

सिर्फ मौजूदा मंत्री और मुख्यमंत्री ही नहीं इनके अलावा बीजेपी के कई बुजुर्ग हो चुके विधायक भी टिकट कटता देख अब अपने बेटे को आगे बढ़ा रहे हैं. वजह ये कि 15 सालों से सत्ता पर काबिज बीजेपी एंटी इनकंबेंसी की लहर को कम करने के लिए मौजूदा विधायकों के टिकट काटने के फॉर्मूले पर आगे बढ़ रही है.

Leave a Reply