सभी रेल के डिब्बे में रेलवे बदलने जा रही है ये सबसे आवश्यक सेवा, प्रधानमंत्री मोदी का था सपना..!

#newsyuva

सभी रेल के डिब्बे में रेलवे बदलने जा रही है ये सबसे आवश्यक सेवा, प्रधानमंत्री मोदी का था सपना..!

ट्रेन से सफर करने वाले पेसिंजर्स के लिए गुड न्यूज़ है. सरकार पेसिंजर्स के यात्रा को आसान एवं  आरामदायक बनाने के लिए रेल की सबसे खास एवं आवश्यक सेवा को और अच्छी बनाने जा रही है. अहम् बात यह है कि ये इस आवश्यक सेवा का सपना प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का था. आइए जानते हैं कैसे और शानदार होने जा रहा है रेल यात्रा का आपका सफर.

इंडियन रेलवे दुनिया के सबस बड़े रेलवे नेटवर्क में से एक है. यहां रोजाना हजारों ट्रेन हजारों किलोमीटर दौड़ती है और लाखों करोड़ों लोग इसमें यात्रा करते हैं. नये वर्ष में रेलवे ने इन्हीं लाखों पेसिंजर्स के सफर को बेहतरीन बनाने के लिए एक बड़ा निर्णय लिया है. यह फैसला प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के एक बड़े सपने का हिस्सा है. 

सरकार देश की सभी ट्रेनों में यात्रियों के लिए सबसे आवश्यक सेवा टॉयलेट व्यवस्था को और भी अच्छी  करने जा रही है. यह प्रधानमंत्री नरेन्द्र  मोदी के स्वच्छ भारत अभियान के सपने का यह एक बड़ा हिस्सा रहा है. आगे जानते है क्या करने जा रही है बीजेपी सरकार.

रेल राज्यमंत्री राजेन गोहेन के अनुसार सभी रेलवे कार्यशालाएं में सभी रेलों के कोचों को यूज किए जा रहा है  टॉयलेट्स की रिपेयरिंग और सुधार के दौरान बॉयो टॉयलेट लगाने के इंस्ट्रक्शन दिए गए हैं. मंत्री के मुताबिक फिलहाल यूज किए जा रहे कोचों में बॉयोटॉयलेट की रिट्रो फिटिंग सीमित हद तक कोच डिपो में की जा रही है. आगे जानिए कितनी ट्रेनों में हो चुका है काम.

कैसे करते हैं बायो टॉयलेट काम? : 

बॉयो टॉयलेट का अविष्कार रेलवे एवं डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (डीआरडीओ) द्वारा संयुक्त रूप से किया गया है. इनमें शौचालय के नीचे बायो डाइजेस्टर कंटेनर में एनेरोबिक बैक्टीरिया होते हैं जो मानव मल को पानी और गैसों में तब्दील कर देता है. इन गैसों को वातावरण में छोड़ दिया जाता है जबकि दूषित जल को क्लोरिनेशन के बाद पटरियों पर छोड़ दिया जाता है.

 
 
 

Leave a Reply