दुनिया के सबसे गर्म रेगिस्तान में होने वाली 251 किमी की रेस में 800 रनर दौड़े

  • सहारा रेगिस्तान की 50 डिग्री की गर्मी में रेस 6 दिन तक चली 
  • गर्मी में रेसर्स के लिए सवा लाख लीटर पानी की व्यवस्था की गई 

रबात. मोरक्को में फैले दुनिया के सबसे गर्म रेगिस्तान सहारा मरुस्थल में होने वाली सबसे कठिन रेस मोरक्को के एल मोराबिती ने जीती। मैराथन देस साबलेस नाम की इस रेस में कुल 800 रनर ने हिस्सा लिया। रेस का नाम है- मैराथन देस साबलेस, जिसमें 50 डिग्री सेल्सियस तक की गर्मी में रनर्स को 6 दिन तक रोज 40 किमी से ज्यादा दौड़ लगानी होती है। कुल 251 किमी। वो भी रेत में

33 साल से हो रही है रेस
डेजर्ट रेस 1986 से होती आ रही है। अब तक करीब 13 हजार से ज्यादा रनर इसमें हिस्सा ले चुके हैं। 30% प्रतिभागी तो ऐसे हैं, जो लगातार 2 या उससे ज्यादा साल रेस में हिस्सा लेते हैं। रेस कितनी बड़ी होती है, इसका अंदाजा इस बात से लगा सकते हैं कि रनर्स के लिए कुल सवा लाख लीटर पानी की व्यवस्था की गई है। अब तक रेस में हिस्सा ले चुके कुल रनर्स में से 14% महिलाएं हैं। 

मोरक्को के एल मोराबिती ओवरआल आठवीं बार जीते 
एल मोराबिती लगातार छठी बार चैंपियन बने। उन्होंने करियर में ओवरऑल आठवीं बार यह रेस जीती। उनके भाई मोहम्मद एल मोराबिती दूसरे नंबर पर रहे। इस रेस में सबसे युवा रेसर 16 साल के, तो सबसे उम्रदराज रेसर 79 साल के थे। 

रेस को 3 कैटेगरी में बांट दिया गया- महिला, पुरुष, डॉग 
रेस में कैक्टस नाम का एक डॉग भी शामिल रहा। कैक्टस से आयोजक इस कदर प्रभावित हुए कि उन्होंने रेस को 3 कैटेगरी में बांट दिया- महिला, पुरुष और डॉग्स। फिनिश लाइन पर कैक्टस का खास स्वाग

 

Leave a Reply